पुलिस महानिरीक्षक सुन्दरराज पी. ने राज्य पुलिस बल एवं अर्धसैनिक बल की सराहना, जारी किया खुला प्रशंसा पत्र

जगदलपुर। बस्तर संभाग अंतर्गत COVID-19, लॉकडाउन की क्रियान्वयन, नक्सल विरोधी अभियान एवं अनेक प्रकार की चुनौतियां का दृढ़ संकल्प के साथ सामना करते हुये क्षेत्र की जनता के जानमाल की रक्षा कर रही राज्य पुलिस बल एवं अर्द्धसैनिक बल के सदस्यों की सराहना करते हुये पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज सुन्दरराज पी. ने जारी किया खुला प्रशंसा पत्र।

विगत 02 वर्षों में लगभग पूरे विश्व में कोरोना महामारी के कारण से अभुतपूर्व विपरीत परिस्थितियां में भी माओवादी संगठन द्वारा अपने जनविरोधी एवं विकासविरोधी गतिविधियों को जारी रखते हुये निर्दोष ग्रामीणों की हत्या करना, जनसुविधा हेतु किये जा रहे निर्माण कार्यों को ध्वस्त करना, आगजनी, तोड़फोड़ जैसी घटनाओं को अंजाम देते रहे।

दूसरी ओर छत्तीसगढ़ राज्य पुलिस एवं केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बल के सदस्य, जिला प्रशासन, सभी विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों एवं मजदूरों के साथ मिलकर तमाम चुनौतियों के बावजूद भी जनसुविधा हेतु 450 KM सड़क एवं 132 पुल-पुलियों का निर्माण कार्य को पूर्ण किया।

बस्तर क्षेत्र की जनता को वामपंथी उग्रवाद एवं कोरोना महामारी जैसे चुनौतियों से रक्षा कर रहे बल सदस्यों तथा उनके परिजनों की अच्छे स्वास्थ्य की कामना पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज द्वारा की गई।

वर्ष 2020 एवं 2021 में COVID-19, लॉकडाउन की क्रियान्वयन, नक्सल विरोधी अभियान एवं अनेक प्रकार की चुनौतियां का दृढ़ संकल्प के साथ सामना करते हुये क्षेत्र की जनता के जानमाल की रक्षा हेतु छत्तीसगढ़ राज्य पुलिस बल एवं केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बलों के सदस्य द्वारा समर्पित सेवाएं दी।

कर्तव्यपालन के दौरान व्यावसायिक तथा व्यक्तिगत अनेक घटनायें को दरकिनार करते हुये आप सभी के द्वारा मानवसेवा के उत्तम उदाहरण पेश की गई। क्षेत्र के नागरिकों द्वारा आप सबकी इस कार्य की सराहना करने के साथ-साथ हमेशा आपके एवं आपके परिजनों को प्रार्थनाएं में याद रखा।

विगत 02 वर्षों में लगभग पूरे विश्व में कोरोना महामारी के कारण से अभुतपूर्व परिस्थितियां निर्मित हुई है तथा अनेक लोग अपने प्रियजन को खोया और जीवनयापन का चुनौती का सामना करना पड़ा। लेकिन इन विपरीत परिस्थितियों में भी माओवादी संगठन द्वारा अपने जनविरोधी एवं विकासविरोधी गतिविधियों को जारी रखते हुये निर्दोष ग्रामीणों की हत्या करना, जनसुविधा हेतु किये जा रहे निर्माण कार्यों को ध्वस्त करना, आगजनी, तोड़फोड़ जैसी घटनाओं को अंजाम देते रहे।

दूसरी ओर छत्तीसगढ़ राज्य पुलिस बल एवं केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बलों के सदस्य के रूप में आप सभी ने वनांचल क्षेत्र के अंदरूनी गांव तक स्वास्थ्य, राशन, बिजली एवं अन्य मुलभूत सुविधा पहुंचाने हेतु अपनी जान को जोखिम में डालकर दिन-रात कठिन परिश्रम कर लगभग 450 कि.मी. सड़क एवं 132 से अधिक पुल-पुलियों का निर्माण कार्य को पूर्ण किया गया। जिला प्रशासन एवं सभी संबंधित विभाग के अधिकारी व कर्मचारी एवं मजदूरों के साथ मिलकर आप सबके द्वारा किया गया यह कार्य से हजारों ग्रामीणों को आपातकाल में संजीवनी के रूप में काम आया।

बस्तर क्षेत्र की जनता को वामपंथी उग्रवाद एवं कोरोना महामारी जैसे दोनों दुष्ट शक्तियों से रक्षा करने हेतु आप सभी का योगदान तथा सेवा समर्पण को नमन करते हुये आपके एवं आपके परिजनों की अच्छे स्वास्थ्य की कामना करते हुये पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज ने विश्वास जताया कि पूर्व की भांति छत्तीसगढ़ पुलिस एवं केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बल के सदस्यों द्वारा वर्तमान चुनौतीयों का भी मजबूती से सामना करते हुये बस्तर क्षेत्र की जनता के सेवा में मिसाल पेश करेगा।

Related posts

Leave a Comment