बिजली समस्या को लेकर संसदीय सचिव ने ली अधिकारियों की बैठक

महासमुंद। परसवानी सब स्टेशन में 160 एमवीए का नया ट्रांसफार्मर लगाया जाएगा। फिलहाल यहां 160 एमवीए के दो ट्रांसफार्मर से बिजली सप्लाई हो रही है। लेकिन लोड बढ़ने से यहां एक अतिरिक्त ट्रांसफार्मर लगाने की कवायद तेज हो गई है। अगले वित्तीय वर्ष में इसका लाभ मिल सकेगा।

आज बुधवार को संसदीय सचिव विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने बिजली विभाग के अधिकारियों से क्षेत्र में बिजली की समस्या को लेकर बैठक लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बिजली की समस्या पर अधिकारियों ने संसदीय सचिव श्री चंद्राकर को बताया कि इस साल ज्यादा लोड बढ़ने से दिक्कतें आ रही है।

पिछले साल की अपेक्षा करीब डेढ़ गुणा लोड बढ़ गया है। वहीं इलेक्ट्रीक ट्रेन के परिचालन के लिए कुछ महीने पहले ट्रैक्शन सब स्टेशन का निर्माण किया गया है। जहां दो ट्रेनों के गुजरने से दस मेगावाट बढ़ जाता है।

जिससे भी दिक्कतें आ रही है। लोड बढ़ने के कारण परसवानी सब स्टेशन में 160 एमवीए का एक अतिरिक्त ट्रांसफार्मर लगाने की योजना है। अगले वित्तीय वर्ष में इसका लाभ मिलने लगेगा। इसी तरह सिरपुर व अछोली सब स्टेशन में 3.15 एमवीए का अतिरिक्त ट्रांसफार्मर लगाए जाने की योजना प्रस्तावित है। इसी तरह भुरका से परसकोल मार्ग में बिजली तार को व्यवस्थित करने के लिए गुरूवार से काम शुरू हो जाएगा। बैठक में कार्यपालन यंत्री टीआर धीवर, एमएल साहू, सहायक यंत्री पीआर वर्मा, जेई आशुतोष राम, श्री ध्रुर्वे, संजय भगत व श्री पाटले मौजूद थे।

जनता की समस्याओं को न करें इग्नोर

संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने कहा कि जनता से संवाद करने से आधी समस्या से निजात मिल सकती है। अक्सर ये शिकायत मिलती है कि छोटी-बड़ी फाल्ट आने के बाद अधिकारी-कर्मचारी फोन आॅफ कर देते हैं। इसलिए मैदानी कर्मचारियों के साथ ही अधिकारी जनता से संवाद करें न कि उन्हें इग्नोर करें। इसके लिए उन्होंने आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए।

Related posts

Leave a Comment