नवागढ़ एसडीएम ने दिए पटवारी के खिलाफ एफआईआर कराने का आदेश

आवाम दूत न्यूज रायपुर । बेमेतरा राजस्व विभाग अपने अधिकारी को कितना गम्भीरता से लेता है इसकी बानगी नवागढ़ ब्लाक में देखी जा सकती है। नवागढ़ एसडीएम ने दिसम्बर 2019 में नायब तहसीलदार नवागढ़ को आदेश दिया था कि ग्राम तेंदुआ में लखन पिता माधो के नाम पर पटवारी विनोद बैष्णव द्वारा नायब तहसीलदार नांदघाट के फर्जी सील हस्ताक्षर से पट्टा जारी कर दिया गया है। इसमें पटवारी के खिलाफ अपराध दर्ज कराकर सात दिवस में जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करें। एसडीएम के इस आदेश पर नायब तहसीलदार नवागढ़ ने कोई जवाब नहीं दिया तो 6 फऱवरी को एसडीएम ने अविलंब जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करने का पत्र लिखा है।

फर्जी नामांतरण किए जाने की शिकायत
जिस पटवारी पर फर्जी पट्टा जारी करने का आरोप है उसके खिलाफ सोमवार को ग्राम तेंदुआ निवासी विजय उपाध्याय ने यह शिकायत की है कि पटवारी विनोद बैष्णव पद का दुरुपयोग करते हुए बिना रजिस्ट्री बैनामा एवन साहू के कृषि भूमि को कूट रचना से दूसरे के नाम पर नामांतरण कर शासन को मुद्रांक शुल्क में चुना लगाया है। उपाध्याय ने बैष्णव के पदस्थापना वाले सभी पटवारी हलकों के रिकार्ड की जांच कराने की मांग की है।

तहसीलदार ने आज तक रिपोर्ट नहीं दी
इस संबंध में नवागढ़ एसडीएम डीआर डहरिया ने कहा कि पहले वाली शिकायत में नायब तहसीलदार ने आज तक रिपोर्ट नहीं दी है। आज पटवारी विनोद बैष्णव के खिलाफ फर्जी नामांतरण की शिकायत मिली है। तत्काल जांच कराकर कार्रवाई करेंगे।

Related posts

Leave a Comment